रोडवेज की अंतर्राज्यीय बस सेवा शुरू होने की उम्मीद

0
129

देहरादून:  कोरोना की दुसरी लहर की पकड़ अब कम होने के बाद उम्मीद की जा रही है कि जून के पहले हफ्ते में अंतरराज्यीय बस सेवा शुरू हो जाएगी, जिससे आम आदमी की काफी राहत मिलेगी।
कोरोना के मामले बढ़ने के बाद 8 मई से उत्तर प्रदेश में बसों का संचालन नहीं हो पा रहा है। ऐसे में अब उत्तर प्रदेश सरकार एक जून से प्रदेश में थोड़ी ढील देने की तैयारी कर रहा है।

उम्मीद है कि 5 जून से उत्तर प्रदेश में अंतरराज्यीय परिवहन पर लगी पाबंदी हटाई जा सकती है। ऐसे में अगर उत्तर प्रदेश सरकार अंतरराज्यीय बसों के संचालन पर लगी पाबंदी हटा देती है तो न सिर्फ उत्तर प्रदेश में उत्तराखंड की बसें संचालित हो सकेंगी, बल्कि दिल्ली रूट पर भी बसें संचालित होने लग जाएंगी।

उत्तर प्रदेश में अंतरराज्यीय बस संचालन पर रोक लगाने की वजह से दिल्ली, गुरुग्राम, फरीदाबाद, लखनऊ, बरेली, आगरा, कानपुर और मेरठ जाने वाली बसों का संचालन ठप है, जिससे दिल्ली जाने वाले यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

हिमाचल में भी कर्फ्यू लागू होने के चलते चंडीगढ़ और हिमाचल रुट की बसों का संचालन पूरी तरह से ठप है। परिवहन अधिकारियों के अनुसार अभी फिलहाल अंतरराज्यीय बस संचालन पर रोक है, लेकिन रोक हटते ही उच्च स्तरीय बातचीत कर संचालन शुरू कर दिया जाएगा।