Homeउत्तराखण्डस्वयं को दुनियां की महाशक्ति के रूप में स्थापित करना हमारा सपना...

स्वयं को दुनियां की महाशक्ति के रूप में स्थापित करना हमारा सपना है: राज्यपाल

-

देहरादून: एमिटी यूनिवर्सिटी हरयाणा के लॉ स्कूल में 5वें नेशनल मूट कोर्ट प्रतियोगिता आयोजित की गयीI राज्यपाल लेफ्टिनेंट को बतौर मुख्य अतिथि बुलाया गया। इस दोरान उन्होंने कहा कि नये भारत के लक्ष्य ऊँचे और महान हैं। हमारी प्राचीन परंमपराएं उपलब्धियों से भरी हुई हैं। हमारा सपना स्वयं को दुनियां की महाशक्ति रूप में स्थापित करना हैI

बता दें, एमिटी यूनिवर्सिटी 4 वर्षों से मूट कोर्ट प्रतियोगिताएं आयोजित करा रहा है। इस प्रतियागिता में छात्रों को वास्तविक जीवन का अनुभव देने के लिए कोर्ट रूम पर आधारित एक उचित परिदृश्य तैयार कर कानूनों की समझ का परीक्षण करने के लिए उनसे प्रश्न पूछे जाते हैं।

शुक्रवार को एमिटी यूनिवर्सिटी हरयाणा के लॉ स्कूल में 5वें नेशनल मूट कोर्ट प्रतियोगिता आयोजित की गयीI इसमें राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह को बतौर मुख्य अतिथि बुलाया गयाI कार्यकर्म को वर्चुअली संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा की भविष्य के एक कुशल अधिवक्ता के रूप में स्वयं को स्थापित करने लिए आयोजित यह नेशनल मूट कोर्ट प्रतियोगिता काफी सराहनीय है। यह प्रतियोगिता कौशल विकास के साथ-साथ सोच, विचार, धारणा और चिन्तन में आवश्यक परिवर्तन लाने के लिए भी अत्यन्त महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

उन्होंने कहा की आज कानून और विधि का क्षेत्र, निरंतर बढ़ता जा रहा है। इसके विस्तार के साथ-साथ विशेषज्ञ जानकारों की मांग भी बढ़ती जा रही है। करियर की दृष्टि से देखें तो यह क्षेत्र आकर्षक और पसंदीदा बनता जा रहा है।

उन्होंने प्रतिभागी छात्र-छात्राओं से कहा की कानून और अवधारणाओं की समझ विकसित करने के लिए अपने ज्ञान का विस्तार करना होगा। इसके लिए समाज में होने वाले परिवर्तनों और स्थितियों पर गहरी समझ और जानकारी का विकास करना होगाI

राज्यपाल ने कहा की नये भारत के लक्ष्य ऊँचे और महान हैं। हमारी प्राचीन परंमपराएं उपलब्धियों से भरी हुई हैं। हमारा सपना स्वयं को दुनियां की महाशक्ति रूप में स्थापित करना है। देश को विश्वगुरू और महाशक्ति बनने के लिए अपने विचारों और सपनों को भी वैश्विक बनाना होगा। उन्होंने कहा की मुझे विश्वास है कि सभी प्रतिभागी इस प्रतियोगिता के माध्यम से कानूनी प्रक्रिया, आचार संहिता, ड्रेस कोड का महत्व, औपचारिक भाषा आदि पर कौशल विकास करेंगे।

राज्यपाल ने कार्यक्रम से जुडे़ सभी लोगों और विश्वविद्यालय परिवार को इस कार्यक्रम की सफलता के लिए बधाई दी। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के फाउंडर व चांसलर अशोक कुमार चौहान, कुलपति असीम चौहान, प्रो. एवं डायरेक्टर एमीटी लॉ स्कूल मेजर जनरल प्रवीण कुमार शर्मा (से.नि.) वर्चुअल रूप से उपस्थित रहे।

LATEST POSTS

हिमस्खलन हादसे के बाद तीसरे दिन पहुच सकी रेस्क्यू टीम, 19 पर्वतारोहियों के शव बरामद

देहरादून: हिमस्खलन हादसे के तीसरे दिन रेस्क्यू टीम घटनास्थल पर पहुंच गईं हैं। टीमों ने मौके से 19 पर्वतारोहियों के शव बरामद कर लिए हैं। वहां...

केंद्रीय बैठक में सीएम धामी ने किया प्रतिभाग, प्राकृतिक कृषि उत्पाद के बढ़ावे पर हुई चर्चा

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में नैनीताल क्लब से वर्चुअल प्रतिभाग किया।...

शादी से इंकार करने पर लड़की को जिंदा जलाया

देहरादून: झारखंड में एक शादीशुदा युवक ने एक लड़की को पेट्रोल डालकर जला दिया। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी के अनुसार युवक उससे...

प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान में उत्तराखंड ने बनाया तीसरा स्थान

देहरादून: प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान के तहत उत्तराखंड ने इस मुहिम में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया हैI राज्य के स्वस्थ मंत्रालय द्वारा मिली जानकारी...

Follow us

1,200FansLike
1,033FollowersFollow
340SubscribersSubscribe