बदरीनाथ धाम में गिरी बर्फ की फुहारें, बारिश से फिर लौटी ठंड

0
56

-बदरीनाथ धाम में बर्फबारी से नजारा मनमोहक

-18 मई को खुलने हैं बदरीनाथ धाम के कपाट

-औली सहित पर्वत श्रृंखलाओं में अभी भी बर्फबारी

चमोली: उत्तराखंड में मौसम ने करवट बदल ली है. बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब समेत आसपास की ऊंची चोटियों में बीते दिन से रूक-रूक कर बर्फबारी हो रही है।

जबकि, निचले इलाकों में बारिश होने से एक बार फिर ठंड लौट आई है। औली के गोरसों बुग्याल, रुद्रनाथ, फूलों की घाटी, नीलकंठ पर्वत श्रृंखला में अभी भी बर्फबारी जारी है।

वहीं, लगातार हो रही बर्फबारी से हेमकुंड साहिब में आस्था पथ से बर्फ हटाने का कार्य भी प्रभावित हो रहा है। जहां एक ओर मैदानी इलाकों में लोग धूप की तपिश से परेशान हैं। वहीं दूसरी ओर पहाड़ों में अभी भी ठंड का एहसास हो रहा है।

अप्रैल महीने के तीसरे हफ्ते में भी बदरीनाथ धाम और आसपास के इलाकों में जमकर बर्फबारी हो रही है. बदरीनाथ धाम में बर्फबारी का नजाारा बेहद सुकून देने वाले हैं। बदरीनाथ धाम में बर्फबारी से नजारा मनमोहक बना हुआ है। पूरी बदरीपुरी बर्फ की सफेद चादर से ढक चुकी है।

बदरीनाथ धाम के अलावा नर नारायण, नीलकंठ, सतोपंथ, माणा, बसुधारा, स्वर्गारोहिणी की चोटियां बर्फ से ढक चुकी है। गौर हो कि बदरीनाथ धाम के कपाट 18 मई को खुलने है। जिसे लेकर प्रशासन की ओर से तैयारियां शुरू करने को लेकर बैठकों का दौर जारी है।