ऑटो-विक्रम संचालकों ने थाली बजाकर किया प्रदर्शन

0
75

ऋषिकेश:  कोरोना महामारी में आर्थिक संकट से जूझ रहे ऑटो-विक्रम मालिक और चालकों के प्रति उपेक्षित रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए उत्तराखंड विक्रम टैम्पो महासंघ ने सरकार के खिलाफ थाली बजाकर विरोध-प्रदर्शन किया।

इस दौरान महासंघ अध्यक्ष मंहत विनय सारस्वत ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री ने विक्रम और थ्री व्हीलर मालिक और चालकों के लिए आर्थिक मदद देने की घोषण की थी, लेकिन आज तक किसी भी तरह की आर्थिक सहायता नही दी गई।

हरिद्वार मार्ग स्थित विक्रम यूनियन कार्यालय के बाहर शुक्रवार को ऋषिकेश और आसपास क्षेत्र के विक्रम, ऑटो थ्री व्हीलर एसोसिएशन से जुड़े पदाधिकारियों ने सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

इससे पूर्व कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महासंघ अध्यक्ष मंहत विनय सारस्वत ने कहा कि वर्तमान सरकार भी परिवहन संस्थाओं की मदद के लिए कोई भी कदम नहीं उठा रही है, जो निंदनीय होने के साथ ही दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होने जल्द ही सरकार से परिवहन कर्मियों को आर्थिक सहायता देने की मांग की। मुनिकिरेती विक्रम यूनियन के अध्यक्ष सुनील कुमार ने कहा की आज परिवहन संस्थाओं से जुडे लोग ऐसे दौर से गुजर रहे हैं।

उन्हें परिवार को पालने के लिए आर्थिक संकट से जुझना पड रहा है, जबकि सरकार मदद करना तो दूर, परिवहन व्यवसायियों का उत्पीड़न कर रही है। उन्होने सरकार से कमर्शियल वाहनों का रोड टैक्स, बीमा माफ करने की मांग की।

थ्री व्हीलर एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेंद्र लाम्बा ने परिवहन व्यवसायियों को आर्थिक सहायता प्रदान करने की मांग की। समर्थन देते हुए नगर उधोग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के अध्यक्ष ललित मोहन मिश्र ने परिवहन संस्थाओ की मांगों को जायज बताया।

प्रर्दशन करने वालों में विक्रम यूनियन ऋषिकेश के उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह सजवाण, हरिमोहन, सुरेश जाटव, पंकज वर्मा, अमित पाल, द्वारिका प्रसाद, फेरू जगवानी, श्रीनिवास पांडेय, ओमप्रकाश गुप्ता, विजय नेगी, नंदकिशोर जाटव, रूकम पोखरियाल, इकबाल हसन, चंदन सिंह आदि शामिल थे।