केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने परीक्षा पैटर्न में किया बदलाव

0
7

अब दो घंटे में देना होगा पेपर
बच्चों को नए पैर्टन के हिसाब से तैयारी करा रहे स्कूल
बहुविकल्पीय यानी एमसीक्यू आधारित सवाल पूछे जाएंगे

देहरादून:  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के नए शैक्षणिक सत्र 2021-22 में 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा को दो भागों में कराने का फैसला लिया है। इसका मतलब यह कि अर्धवार्षिक परीक्षा भी बोर्ड की देखरेख में आयोजित की जाएगी।

ऐसे में छात्रों की सहूलियत को ध्यान में रखते हुए बोर्ड ने परीक्षा पैटर्न में बदलाव किए हैं। इसमें परीक्षा समय समेत कई बिंदुओं पर बदलाव किए गए हैं। वहीं, स्कूल भी बच्चों को नए पैर्टन के हिसाब से तैयारी करा रहे हैं।

सीबीएसई के नए परीक्षा पैटर्न के टर्म वन परीक्षा में बहुविकल्पीय यानी एमसीक्यू आधारित सवाल पूछे जाएंगे। इसके लिए छात्रों को 90 मिनट का समय दिया जाएगा। वहीं, मासिक परीक्षाओं का पैटर्न भी इसे ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है।

इसके अलावा टर्म टू परीक्षा पुराने पैटर्न पर ही होगी, लेकिन इस बार तीन घंटे के समय के बजाय दो घंटे का ही समय परीक्षा के लिए दिया जाएगा। इसके बाद दोनों टर्म परीक्षाओं से 50-50 फीसदी अंक दिए जाने हैं।

सीबीएसई के क्षेत्रीय अधिकारी रणबीर सिंह ने कहा कि बीते साल की तरह आने वाले समय में बोर्ड परीक्षाओं को रद्द न करना पड़े इसके लिए बोर्ड की ओर से परीक्षा पैटर्न में बदलाव किया गया है। इसका सीधा लाभ छात्रों को मिलेगा। परीक्षा पैटर्न से जुड़ी सभी जानकारी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड की गई है।

यूपी-सीबीएसई और आईसीएसई तीनों बोर्ड के रजिस्ट्रेशन शुरू

मेरठ के सीसीएसयू कैंपस और कॉलेजों में सोमवार शाम से यूपी-सीबीएसई और आईसीएसई तीनों बोर्ड के रजिस्ट्रेशन शुरू हो गए हैं। 10 हजार छात्र-छात्राओं ने अब तक रजिस्ट्रेशन कर दिए हैं। 115 रुपये रजिस्ट्रेशन शुल्क के साथ आवेदन कर सकते हैं।