सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रायपुर का होगा उच्चीकरण, 30 बेड के आइसीयू सहित अल्ट्रासाउंड की भी बढ़ेगी सुविधाएं

0
23

-एक हजार स्क्वायर मीटर के एरिया में बनेगी चार मंजिला बिल्डिंग

-आक्सीजन जनरेशन प्लांट सहित पांच बेड का एनआइसीयू भी होगा तैयार

देहरादून: राजधानी के लगभग तीन लाख की आबादी पर बने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रायपुर को उच्चीकरण के साथ कई प्रकार की सुविधाओं से लैस करने की योजना तैयार की गई है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रायपुर के उच्चीकरण होने से रायपुर, मालदेवता, केसरवाला, द्वारा सौड़ा सरौली, रांझावाला, नथुवावाला सहित आसपास की बड़ी आबादी को बेहतर इलाज मिल सकेगा।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रायपुर में मरीजों की बड़ी संख्या होने के बावजूद इसकी स्थिति अब तक किसी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जैसी ही बनी हुई थी। जबकि कोविडकाल में यह अस्पताल उपचार व अन्य कार्यों में काफी मददगार साबित हुआ था। परंतु अब करीब दस करोड़ रुपये के खर्च के साथ इसके उच्चीकरण का प्लान तैयार किया गया है।

स्वास्थ्य विभाग के मानकों के अनुरूप किसी पीएचसी के माध्यम से करीब 30 हजार की आबादी को कवर किया जाता है। जबकि, सीएचसी के लिए यह मानक एक लाख से ज्यादा की आबादी है। लेकिन, रायपुर व उसके आसपास करीब तीन लाख की आबादी इस अस्पताल पर निर्भर है। जिसे देखते हुए अस्पताल में सुविधाएं व संसाधन बढ़ाए जाने की तैयारी है।

खास बात ये है कि गर्भवती महिलाओं की देखभाल के लिए भी बेहतर सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं। उनके लिए अलग से आइसीयू की व्यवस्था की जा रही है, वहीं विशेषज्ञ चिकित्सकों की संख्या भी बढ़ाई जा रही है।

अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डा. आनंद शुक्ला के अनुसार, क्षेत्रीय विधायक उमेश शर्मा काऊ की ओर से 30 बेड आइसीयू के लिए पुर्व में ही दिए जा चुके हैं। जो फिलहाल रायपुर स्टेडियम स्थित कोविड केयर सेंटर में रखे गए हैं। अस्पताल की नई बिल्डिंग तैयार होने के साथ यहां यह बेड भी शिफ्ट कर दिए जाएंगे।