एसटीएफ के हत्थे चढ़ा इंटरनेशनल साइबर ठग

0
42

-कम्पयूटर से वायरस हटाने की बात कह कर करता था ठगी

देहरादून:  विदेशो में रह रहे लोगो को विभिन्न सेवा देने व कंप्यूटर में फर्जी वायरस से सिस्टम को नुकसान से बचाने के नाम पर अंतरराष्ट्रीय साइबर अपराधों को अंजाम देने वाले मास्टरमाइंड को एसटीएफ उत्तराखंड द्वारा देहरादून से गिरफ्तार कर लिया गया है।

एसटीएफ कार्यलय में प्रैसवार्ता के दौरान एसएसपी. एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि बीते दिनों उत्तराखण्ड एसटीएफ को सूचना मिली कि इन दिनों साइबर अपराधियों द्वारा विदेश से डॉलर में पेमेंट, अवैध धन से प्रॉपर्टी में इन्वेस्टमेंट और करोड़ो रूपये के बैंक ट्रांसक्शन्स किया जा रहा है।

सूचना पर कार्यवाही की गयी तो पता चला कि देहरादून में एड़ी बिल्डर्स के नाम से आई. टी. पार्क के समीप साईबर अपराधियों द्वारा इस तरह की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है।

जिस पर एसटीएफ ने एक आरोपी अर्जुन सिंह पुत्र नरेन्द्र सिंह को मौके से गिरफ्तार कर लिया है जबकि उसका एक साथी दिलीप कुमार थुपेला फरार है। जिसकी तलाश की जा रही है।

पूछताछ में अर्जुन सिंह द्वारा खुलासा किया गया कि अमेरिका में रह रहे गिरोह के मास्टरमाइंड निपुण गंधोक की गिरफ्तारी के बाद, देहरादून व अन्य स्थानों पर कॉल सेंटर्स को बंद करके स्वयं द्वारा वर्चुअल नंबर्स से साइबर अपराध को अंजाम दिया जा रहा था।

आरोपी का एक साथी निपुन गन्धोक जो कि पूर्व में गिरफ्तार किया जा चुका है उसके साथ मिलकर 2 वर्ष पूर्व विदेशी व्यत्तिफयों को माइक्रोसॉफ्ट कम्पनी से सम्बन्धित होना बताकर वर्चुअल नम्बर के माध्यम से सम्पर्क कर उनके कम्पयूटर से वायरस हटाने की बात कह कर धोखाधडी किया करता था।

निपुन की गिरफ्तारी के बाद अर्जुन सिंह द्वारा अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर ये काम करना शुरू कर दिया गया था।

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.