कोविड के दौरान हुई मृत्यु का विवरण प्रस्तुत न करने वाले अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई के डीएम ने दिए निर्देश

0
114

देहरादून: जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार वास्तव ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए कि कोविड के उपचार हेतु अधिकृत चिकित्सालय जिन्होंने अभी तक निर्धारित प्रारूप पर कोविड के दौरान हुई मृत्यु का विवरण प्रस्तुत नहीं किया है ऐसे चिकित्सालयों को कल 12 बजे तक अनिवार्य रूप रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

साथ ही दिए गए समय पर रिपोर्ट प्रस्तुत ना करने की दशा में सम्बन्धित चिकित्सालय के विरूद्ध क्लीनिकल इस्टबलिसमेंट एक्ट के तहत लाईसेंस निरस्तीकरण करने की कार्यवाही हेतु पत्रावली प्रस्तुत करने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिए।

जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी प्रशासन को आशारोड़ी चैकपोस्ट पर बनाए गए सैम्पलिंग प्वांईट पर व्यवस्था बनाने को कहा जिससे जनपद में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की सैम्पलिंग किये जाने के दौरान सामाजिक दूरी के नियमों का पालन के साथ शीघ्रता से कार्य पूर्ण करें ताकि जाम की स्थिति ना बने।

उन्होंने पुलिस अधीक्षक नगर को आशारोड़ी चैकपोस्ट पर बनाए गए सैम्पलिंग प्वांईट पर व्यवस्था बनाने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित करने को कहा। उन्होंने समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि उनके यहां सीमा चैकपोस्ट पर बनाये गए सैम्पलिंग प्वांईट का निरीक्षण करते हुए सम्बन्धित पुलिस क्षेत्राधिकारी से समन्वय कर सैम्पलिंग की बेहतर व्यवस्था बनाई जाए ताकि अन्य राज्यों से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की सैम्पलिंग की जा सके।

जिलाधिकारी ने कहा सीमा पर आने वाले प्रत्येक वाहन की एन्ट्री के साथ ही प्रतिदिन आने लोेगों की संख्या, कितने व्यक्तियों की सैम्पलिंग की गई तथा कितने व्यक्तियों के पास रिपोर्ट थी उनका पूर्ण विवरण प्रत्येक दिन अद्यतन किया जाए।

उन्होंने एयपोर्ट, रेलवे स्टेशन, आईएसबीटी पर आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की सैम्पल प्राप्त करने के साथ ही अम्बेडकर चैक घण्टाघर आदि स्थानों पर भेजी जा रही सैम्पलिंग टीमों के साथ पुलिस की ड्यूटी भी लगाई जाए ताकि सैम्पलिंग के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग एवं कानून व्यवस्था बनी रहे।

उन्होने उप जिलाधिकारी सदर को शहरी क्षेत्र में वितरित हुई आइवरमैक्टिन दवा की वितरण रिपोर्ट गूगल सीट पर अद्यतन करवाने के निर्देश दिए।

इस दौरान बताया गया कि जनपद के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रान्तर्गत शत्प्रतिशत् आईवरमैक्टिन दवा का वितरण हो चुका है।