एसटीएफ के हत्थे चढ़ा, फर्जी लोन दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला शतिर, फाइल चार्ज व अन्य शुल्क के नाम पर ठग लेता था मोटी रकम

0
25

देहरादूनः एसटीएफ ने फर्जी लोन दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले शतिर को पकड़ने में बड़ी कामयाबी हाशिल की है। स्पेशल टास्क फोर्स की टीम ने मोबाइल नंबरों व बैंक खातों की जांच के आधार पर लोन के नाम पर ठगी करने वाले एक शातिर को ग्रेटर नोएडा से गिरफ्तार कर लिया है।

एसएसपी, एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि ननूरखेड़ा, रायपुर निवासी दीवान सिंह की दर्ज शिकायत पर करवाई करते हुए धोखाधड़ी करने वाले शातिर को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है।

अजय सिंह ने बताया, दीवान सिंह ने अपनी तहरीर मे कहा था कि 12 जनवरी को उन्हें अज्ञात व्यक्ति ने फोन कर प्रधानमंत्री लोन योजना के तहत एक प्रतिशत ब्याज दर पर लोन दिलाने की बात कही।आरोपित ने पहचान संबंधी दस्तावेज मांगे, जिसके बाद पीडि़त को लोन स्वीकृत होने के दस्तावेज भेजते हुए इंश्योरेंस, फाइल चार्ज व अन्य शुल्क के नाम पर एक लाख, 22 हजार रुपये की ठगी कर ली।

इस मामले में 12 जनवरी को ही साइबर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस टीम ने मोबाइल नंबरों, बैंक खातों का विवरण प्राप्त कर जांच की तो पता लगा कि आरोपित ने जिन नंबरों से फोन किया वह दिल्ली व उत्तर प्रदेश के थे।

बैंक खातों की जानकारी हासिल करने पर पता लगा कि आरोपित ने दिल्ली, नोएडा, सीतापुर के बैंक खातों में ठगी गई धनराशि को डाला है।

शनिवार को पुलिस टीम ने ग्रेटर नोएडा से आरोपित अनुज अग्रवाल निवासी ला रेजीडेंसी सोसाइटी एरियाए ग्रेटर नोएडा को गिरफ्तार कर लिया। एसएसपी ने बताया कि गिरोह के एक सदस्य को पहले ही उत्तर प्रदेश के सीतापुर से गिरफ्तार किया जा चुका है।

पूछताछ में आरोपित ने बताया कि उनके सहयोगी अखबारों व इंटरनेट मीडिया के माध्यम से देश के विभिन्न राज्यों की जनता से संपर्क कर कम ब्याज दरों पर लोन दिलाने का झांसा देते थे। फाइल चार्जए इंश्योरेंस चार्ज व अन्य शुल्क के नाम पर वह विभिन्न बैंक खातों में पैसे डलवाकर ठगी करते थे।