Homeउत्तराखण्डप्रदेश के पूर्व शिक्षा मंत्री पर लगा अपने रिश्तेदारों को नौकरी देने...

प्रदेश के पूर्व शिक्षा मंत्री पर लगा अपने रिश्तेदारों को नौकरी देने का आरोप

-

देहरादून: उत्तराखंड के पूर्व शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे पर शिक्षा एवं पंचायतीराज विभाग में अपने आठ रिश्तेदारों को नौकरी दिलाने का आरोप है। सोशल मीडिया में इसकी खबर वायरल हो रही है।

पूर्व शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे पर आरोप है कि उन्होंने अपने कार्यकाल में रिश्तेदारों को यह नौकरियां दिलाई। पूर्व शिक्षा मंत्री की सोशल मीडिया में जो खबर वायरल हो रही है, उसमें पूर्व मंत्री पर आरोप है कि उन्होंने बिहार और बाजपुर के रहने वाले रिश्तेदारों को नौकरी दिलाई है।

जिसके अनुसार उन्होंने बिहार के रहने वाले चार रिश्तेदारों सुनील पांडे को रुड़की इंटर कालेज, सोनू पांडे को हरिद्वार इंटर कॉलेज, धर्मेंद्र पांडे को बालिका इंटर कॉलेज बहादराबाद एवं संतोष पांडे को संस्कृत विद्यालय हरिद्वार में नियुक्ति दिलाई थी। 

इसके अलावा बाजपुर निवासी उज्जवल पांडे को निदेशालय पंचायतीराज कार्यालय, रितिक पांडे को पौड़ी इंटर कालेज, जय किशन पांडे को जसपुर आदित्य इंटर कॉलेज एवं राजू पांडे को गुलरभोज इंटर कालेज ऊधमसिंह नगर में नौकरी दिलाई। आरोप है कि वर्ष 2017 से 2021 तक यह नौकरियां दिलाई गई। जिसमें कुछ लोगों के दस्तावेज फर्जी भी हैं। 

LATEST POSTS

प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान में उत्तराखंड ने बनाया तीसरा स्थान

देहरादून: प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान के तहत उत्तराखंड ने इस मुहिम में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया हैI राज्य के स्वस्थ मंत्रालय द्वारा मिली जानकारी...

राजस्व क्षेत्रों को रैगुलर पुलिस को दिए जाने को लेकर मुख्य सचिव ने मांगे प्रस्ताव

देहरादून: मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने प्रदेश के राजस्व क्षेत्रों को रैगुलर पुलिस को दिए जाने को लेकर समस्त ...

आरबीएनएल की कार्यप्रणाली पर बोले विधायक, कार्यशैली में लायें बदलाव

रुद्रप्रयाग: विधायक भरत सिंह चौधरी की मौजूदगी में जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने ऋषिकेश-कर्णप्रयाग नई ब्राड गेज लाईन परियोजना निर्माण के चलते मरोड़ा गांव के...

मुख्य सचिव ने दिए निर्देश, राशन कार्ड के अलावा वोटर आईडी व आधार से भी बनायें आयुष्मान कार्ड

देहरादून: मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने सचिवालय में राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण, उत्तराखण्ड की द्वितीय शासकीय सभा की बैठक ली। बैठक के दौरान विभिन्न प्रस्तावों...

Follow us

1,200FansLike
1,033FollowersFollow
340SubscribersSubscribe