सीएम धामी की घोषणा पर अमल आशा वर्कर्स को 2 हजार प्रोत्साहन राशि का जारी शासनादेश

0
13

देहरादून: मॉनसून सत्र में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा आशा वर्कर्स के लिए की गई घोषणा को लेकर आज शासन से जीओ जारी हो गया है। जिसके बाद जल्द आशा वर्कर्स को 2000 रुपये प्रोत्साहन राशि के रूप में दिये जाएंगे। वहीं आशा वर्कर्स ने प्रोत्साहन राशि को ऊंट के मुंह में जीरा बताया है।

कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए आशा वर्कर्स की महत्वपूर्ण भूमिका को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने खुद मॉनसून सत्र के दौरान सदन में उनका उत्साह वर्धन किया था। कोरोनाकाल में किस तरह से आशा वर्कर द्वारा अपनी जान को जोखिम में डालकर कोविड-19 से निपटने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई गई, इस पर खुद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आशा वर्कर्स का आभार जताया था। मानदेय को लेकर लगातार मांग कर रही आशा वर्कर को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सदन से 2000 रुपये प्रोत्साहन राशि की घोषणा की थी।

जिसको लेकर आज स्वास्थ्य विभाग द्वारा शासनादेश जारी कर दिया गया है। स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी के कार्यालय से इस संबंध में शासनादेश जारी हुआ है। डीजी हेल्थ तृप्ति बहुगुणा ने बताया कि आशा वर्कर्स को अगले 5 महीनों के लिए प्रत्येक महीने 2000 रुपये प्रोत्साहन राशि के रूप में दिये जाएंगे। हालांकि सरकार द्वारा 2000 रुपये प्रोत्साहन राशि के रूप में दिया जाएगा। इस राहत को आशा वर्कर्स ऊंट के मुंह में जीरा बता रही हैं। आशा वर्कर्स का कहना है कि उनकी 13 सूत्रीय मांगें थीं। लेकिन सरकार द्वारा केवल 2000 रुपये प्रोत्साहन राशि देकर इतिश्री कर दी गई है। जिसको लेकर आशा वर्कर्स में आक्रोश देखने को मिल रहा है।