देश को अंत्योदय अन्नपूर्णा योजना देने वाले शांता कुमार से महाराज ने की भेंट

0
157

-पूर्व मुख्यमंत्री की पत्नी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए की श्रद्धांजलि अर्पित 

देहरादून/हिमाचल: उत्तराखण्ड प्रदेश के पर्यटन, धर्मस्व, संस्कृति एवं सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने अपने हिमाचल भ्रमण के दौरान आज भाजपा के मार्गदर्शक मंडल के सदस्य, पूर्व मुख्यमंत्री और भारत सरकार में मंत्री रहे शांता कुमार से उनके पालमपुर स्थित आवास पर मुलाकात की जहाॅं उन्होंने उनकी पत्नी संतोष शैलजा के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस मौके पर हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री और केन्द्र में अटल बिहारी वाजपेय सरकार में खाद एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रहे शांता कुमार ने सतपाल महाराज को अपनी आत्मकथा “निज पथ का अविचल पंथी” पुस्तक भी भेंट की।

इस पुस्तक का हाल ही में नई दिल्ली में भाजपा के वरिष्ठ  नेता मुरली मनोहर जोशी और वरिष्ठ पत्रकार प्रभु चावला की मौजूदगी में विमोचन हुआ था।

इस पुस्तक के कवर पेज पर  शांता कुमार और उनकी दिवंगत धर्मपत्नी श्रीमती संतोष शैलजा का फोटो लगा है।

शांता कुमार ने  सतपाल महाराज को बताया कि उन्हें आत्मकथा लिखने की प्रेरणा अपनी दिवंगत धर्मपत्नी से ही मिली थी।

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने देश के लिऐ शांता कुमार की भूमिका को गिनाते हुए बताया कि,  केंद्र में अटल बिहारी वाजपेई सरकार के समय में तत्कालीन खाद एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री व हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री  शांता कुमार भाजपा के स्तंभ होने के साथ-साथ ऐसे महान व्यक्ति हैं जिन्होंने देश को अंत्योदय अन्नपूर्णा योजना देने के साथ-साथ हिमाचल में पानी वाले मुख्यमंत्री के नाम से प्रसिद्धि पाई है।

सतपाल महाराज ने जारी अपने बयान में कहा कि उन्होंने  शांता कुमार से मिलकर अंत्योदय अन्नपूर्णा योजना पर गहन मंथन करने के साथ-साथ अनेक महत्वपूर्ण जानकारियां भी हासिल की।

 

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.