हिमाचल |सीमाएं खुलने के बाद सैलानी रोमांचक खेलों का आनंद लेने के लिए वाल्वो और निजी बसों में आ रहे सैलानी

मनाली में पैराग्लाइडिंग के लिए पैराग्लाइडर तैयारी कर रहे पर्यटक
  • पर्यटन कारोबार खुलने के बाद अब साहसिक खेलों से जुडे़ लोगाें ने भी तैयारियां शुरू की
  • रोहतांग पास पर बर्फ से लदे पहाड़ों को देख कर सैलानी गदगद हो रहे हैं
  • हिमाचल प्रदेश सरकार की ओर से जैसे ही सीमा सैलानियों के लिए खोल दी गई है, वैसे ही ब्यास नदी में रोमांच का सफर राफ्टिंग हो या फिर आसमान में उड़ने का मजा लेने के लिए पैराग्लाइडिंग, इन व्यवसाय से जुड़े लोगों ने भी अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। पैराग्लाइडिंग से जुड़े व्यवसायियों ने अभ्यास शुरू कर दिया है ताकि सैलानियों को ठीक से पैराग्लाइडिंग करवाई जा सके।
हिमाचल की सीमा में काफी संख्या में सैलानी पहुंच रहे हैं।

हिमाचल की सीमा में काफी संख्या में सैलानी पहुंच रहे हैं।

हालांकि, मनाली होटलियर एसोसिएशन ने पहली अक्तूबर से होटलों को खोलने का ऐलान किया है लेकिन इससे पहले ही पर्यटकों का मनाली आना शुरू हो गया है। बहरहाल, पैराग्लाइडर पर्यटन नगरी मनाली में कई स्थानों में सोलो पैराग्लाइडिंग कर अभ्यास कर रहे हैं। काफी लंबे अंतराल के बाद यहां पर्यटन गतिविधियां शुरू करने की अनुमति मिली है। लिहाजा, अब इन गतिविधियों से जुड़े लोगों ने कमर कस ली है।

मनाली-रोहतांग मार्ग में मढ़ी और गुलाबा के बीच लगते क्षेत्र में पैराग्लाइडिंग से जुड़े लोगों ने सोलो पैराग्लाइडिंग शुरू की है और अभ्यास कर रहे हैं। क्योंकि इस बार पैराग्लाइडिंग को काफी लंबा अंतराल हो गया है। लेकिन अब 15 सितंबर के बाद साहसिक खेलों को प्रशासन और विभाग ने खोल दिया है ऐसे में अब पैराग्लाइडिंग के साथ-साथ राफ्टिंग भी शुरू हो गई है। दिन में करीब 200 सैलानी रोहतांग पास के पास पहुंच रहे है। बर्फ से लदे पहाड़ों को देख कर सैलानी गदगद हो रहे हैं।

ऊंचे-ऊंचे पहाड़ों के बीच पैराग्लाइडर दिखने लगे।

ऊंचे-ऊंचे पहाड़ों के बीच पैराग्लाइडर दिखने लगे।

मनाली की ओर पर्यटकों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है। 16 सितंबर से एक वोल्वो बस पर्यटकों की मनाली पहुंची थी। उसके बाद वोल्वो बसों के आने का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है जो 19-20 सितंबर तक 4 तक पहुंच चुका है। इसके अलावा पर्यटक अपने निजी वाहनों के माध्यम से भी मनाली आना शुरू हो गया है। मनाली से रोहतांग की राह पकड़ने वाले पर्यटकों की संख्या में 150 से लेकर 200 तक के बीच पहुंच चुकी है।

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.