कोरोना संकट के बीच हुआ ऐतिहासिक झंडेजी का आरोहण इस बार दो दिन ही चलेगा मेला

0
36

-श्रीमहंत देवेंद्रदास महाराज की अगुवाई में दोपहर में हुआ श्री झंडेजी का आरोहण
कोरोना संकट के चलते रविवार को नगर परिक्रमा के बाद ही संपन्न हो जाएगा मेला

देहरादून: प्रेम, सद्भावना और आस्था के प्रतीक श्री झंडेजी का शुक्रवार को भव्य आरोहण किया गया। इसके साथ ही झंडेजी मेला शुरू हो गया।

कोरोना संक्रमण के चलते इस बार श्री दरबार साहिब और श्री झंडेजी मेला प्रबंधन कमेटी ने मेला दो दिन तक ही सीमित रखना तय किया है। रविवार को नगर परिक्रमा के बाद धार्मिक मेला संपन्न हो जाएगा।

मेला प्रबंधन कमेटी के मुताबिक शुक्रवार को सुबह सात पुराने श्री झंडेजी को उतारने का कार्यक्रम शुरू हुआ। दोपहर करीब दो बजकर 20 मिनट पर श्री दरबार साहिब के सज्जादानशीन श्रीमहंत देवेंद्र दास महाराज की अगुवाई में श्री झंडेजी का आरोहण किया गया। वहीं इस दौरान पिछले सालों की अपेक्षा कम भीड़ दिखाई दी।

चार अप्रैल को सूक्ष्म स्वरूप में नगर परिक्रमा होगी। इसके साथ ही मेला संपन्न हो जाएगा। श्री झंडेजी मेला आयोजन समिति के व्यवस्थापक केसी जुयाल ने बताया कि देश के विभिन्न राज्यों में दोबारा तेजी से फैलते कोरोना के चलते एहतियातन कई कदम उठाए गए हैं।

उत्तराखंड के अलावा अन्य राज्यों से आने वाली संगतों को आरटी-पीसीआर निगेटिव रिपोर्ट लेकर आना अनिवार्य है। आरोहण स्थल पर भी सीमित संख्या में श्रद्धालुओं से आने की अपील की जा रही है। हालांकि, इस साल संगतों में आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या पिछले सालों के मुकाबले कम ही है।