मसूरी के कैम्पटी फॉल में पर्यटकों का अंबार कोविड नियम तार-तार

0
109

मसूरी:  साइंटिस्ट लगातार कोरोना की तीसरी वेव के लिए लोगों को आगाह कर रहे हैं, लेकिन लोग कोरोना को लेकर बहुत लापरवाह दिखाई दे रहे हैं। लोग न तो मास्क पहनने को लेकर गंभीर हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। इसका उदाहण इन दिनों उत्तराखंड के पर्यटन स्थलों पर देखने को मिल रहा है।

दरअसल, पहाड़ों की रानी मसूरी और उससे सटे कैम्पटी फॉल पर इन दिनों बड़ी तादाद में पर्यटक मॉनसून का लुत्फ उठाने के लिए पहुंच रहे हैं। पर्यटकों के आने से जहां व्यापारियों के चेहरे खिले हैं वहीं, फॉल में नहाने के दौरान पर्यटक सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ा रहे हैं। इससे एक बार फिर कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया है।

कोरोना कर्फ्यू में सरकार की तरफ से ढील दिए जाने के बाद लोग बेपरवाह हो गए हैं। हालांकि, कैम्पटी थाना अध्यक्ष नवीन चंद्र ने फोन पर बताया कि पुलिस द्वारा लगातार मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जा रहा है। थाना क्षेत्र में नियमित प्रभावी चेकिंग की जा रही है। कोविड-19 नियमों का उल्लंघन करने वालों का चालान भी काटा जा रहा है।

थाना अध्यक्ष ने बताया कि मास्क नहीं पहनने वाले 2,085 लोगों के चालान काटे गए और उनसे 5,38,500 जुर्माना वसूला गया। वहीं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर 1,583 लोगों के चालान किए और उनसे 1,58,300 रुपये जुर्माना के रूप में वसूले गए।