कोविड लहर धीमी होते ही पर्यटकों से गुलजार होने लगा नैनीताल

0
30

देहरादून:  कोविड की दूसरी लहर के धीमा होने के साथ ही नैनीताल में पर्यटक पहुंचने लगे हैं। रविवार को नैनीताल पूरी तरह पर्यटकों से गुलजार नजर आया। कई बंद होटल संचालकों ने भी अपने होटल खोले।

यहां पंत पार्क, मालरोड समेत पर्यटक स्थलों में पर्यटकों की रौनक बनी हुई है। हल्द्वानी, कालाढूंगी और भवाली पाइंस की ओर से वाहनों की आवाजाही भी नियमित बनी हुई है। नैनीझील में नाव भी खूब चलीं, जिससे पर्यटन कारोबारियों के चेहरे पर रौनक लौट आई है।

नैनीताल लेकब्रिज से 500 से अधिक तो कालाढूंगी आदि से मिलाकर एक हजार से अधिक वाहन नैनीताल पहुंचे। पर्यटकों की भीड़ बढ़ने के बाद 40 से 50 फीसदी खुले होटलों की संख्या लगभग 90 फीसदी तक पहुंच गई है।

कोविड दूसरी लहर के बाद मार्च में ही पर्यटन कारोबार धीमा हो गया। अप्रैल माह के अंतिम सप्ताह में जिलाधिकारी के आदेश पर हल्द्वानी, लालकुआं व रामनगर में कोविड कर्फ्यू के आदेश के बाद पर्यटन भी थम सा गया।

एक मई से पूरे जिले में कर्फ्यू की घोषणा के बाद तो पर्यटन व्यवसाय पूरी तरह ठप हो गया। पर अब एक बार फिर वीकएंड पर नैनीताल पर्यटकों से गुलजार नजर आया।

दिल्ली, एनसीआर के साथ ही यूपी, हरियाणा, पंजाब आदि राज्यों से काफी पर्यटक नैनीताल पहुंचे। जिस कारण रविवार को भी डीएसए पार्किंग पूरी तरह से फुल हो गई। भवाली, भीमताल सहित आसपास के इलाकों में भी पर्यटकों के कारण रौनक रही।

नगर के पंत पार्क, चाट पार्क, तिब्बती व भोटिया बाजार समेत मालरोड और अन्य स्थानों पर काफी मात्रा में सैलानी देखे गए हैं। सैलानियों ने समीपवर्ती पर्यटक स्थलों के अवलोकन के साथ नौकायन और घुड़सवारी भी की।

समीपवर्ती भवाली, भीमताल, रामगढ़, नौकुचियाताल में भी पर्यटकों की संख्या में इजाफा हुआ है। इससे पर्यटन कारोबारी भविष्य में और बेहतर पर्यटन के लिए आशांवित हैं। समीवपर्ती रिजार्ट्स, होटल, होम स्टे में नगर से अधिक सैलानी पहुंच रहे हैं। हालांकि वह घूमने के लिए नगर क्षेत्र और वहां के पर्यटक स्थलों में पहुंच रहे हैं।

पर्यटन बढ़ना तो नगर और यहां के पर्यटन के लिए सुखद है। मगर बहुसंख्यक पर्यटक बिना मास्क भी आवाजाही कर रहे हैं। जो भविष्य में बड़े खतरे का सबब बन सकता है।

हालांकि पुलिस की ओर से विभिन्न क्षेत्रों में सघन चैकिंग अभियान चलाया जा रहा है। लेकिन इसके बावजूद कई सार्वजनिक स्थल, पर्यटक स्थल आदि में पर्यटक बिना मास्क नजर आ रहे हैं।