spot_img
spot_img
Homeदेश दुनिया8 निलंबित सांसद पूरी रात धरने पर रहे; सुबह उपसभापति चाय लेकर...

8 निलंबित सांसद पूरी रात धरने पर रहे; सुबह उपसभापति चाय लेकर पहुंचे तो सांसदों ने मना कर दिया

-

8 निलंबित सांसद पूरी रात धरने पर रहे; सुबह उपसभापति चाय लेकर पहुंचे तो सांसदों ने मना कर दिया; 2 बार बिहार का जिक्र कर मोदी बोले- हरिवंश जी बड़े दिल वाले हैं

निलंबित सांसदों का धरना जारी है। राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश उनके लिए सुबह की चाय लेकर पहुंचे थे।

  • कृषि बिलों के विरोध में राज्यसभा में हंगामा करने की वजह से 8 सांसद पूरे सत्र के लिए निलंबित किए गए हैं
  • इनमें कांग्रेस के 3, तृणमूल और सीपीआई के 2-2 और आप का एक सांसद शामिल

कृषि बिलों के विरोध में हंगामा करने पर राज्यसभा से निलंबित 8 विपक्षी सांसद रातभर धरने पर बैठे रहे, धरना अब भी जारी है। कई नेताओं ने बताया कि इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है, जब संसद परिसर में रातभर प्रदर्शन चला हो। हालांकि, विधानसभाओं में ऐसा होता रहा है। धरना दे रहे सांसदों के लिए राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश आज सुबह की चाय लेकर पहुंचे, लेकिन सांसदों ने उनकी चाय पीने से मना कर दिया।

दिलचस्प बात ये भी है कि उपसभापति से असंसदीय व्यवहार करने की वजह से ही सांसदों को निलंबित किया गया है। इन सांसदों ने रविवार को कृषि बिलों के विरोध में राज्यसभा में हंगामा किया था। सदन की रूलबुक फाड़ दी और माइक तोड़ने की कोशिश भी की थी।

मोदी ने 2 बार बिहार का जिक्र कर कहा- हरिवंश जी से प्रेरणा मिलती है
प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कह, “हरिवंश जी उन लोगों के लिए चाय लेकर पहुंचे, जिन्होंने कुछ दिन पहले उन पर हमला किया, उन्हें बेइज्जत किया। इससे पता चलता है कि हरिवंश जी कितने विनम्र और बड़े दिल वाले हैं। मैं देश की जनता के साथ उन्हें बधाई देता हूं।”

मोदी ने दूसरे ट्वीट में कहा “बिहार की महान धरती सदियों से हमें लोकतंत्र के मूल्यों की सीख दे रही है। इस खूबसूरत परंपरा को आगे बढ़ाते हुए बिहार के सांसदों और राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश जी हमें प्रेरणा दे रहे हैं। आज सुबह उन्होंने जो किया, उससे लोकतंत्र से प्यार करने वाले हर आदमी को गर्व होगा।”

हंगामे, धरने के जवाब में हरिवंश 24 घंटे का उपवास रखेंगे
राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने सभापति वेंकैया नायडू को चिट्ठी लिखी है। उन्होंने सदन के विपक्ष के रवैए से हुए अपमान पर दुख जताया है। इसके विरोध में उन्होंने 24 घंटे का उपवास रखने का ऐलान किया है।

आप के सांसद ने कहा- किसान विरोधी कानून बिना वोटिंग पास हुआ
आप के सांसद संजय सिंह ने ट्वीट कर कह, “यह व्यक्तिगत रिश्ते निभाने का वक्त नहीं है। हम किसानों के लिए धरने पर बैठे हैं। उपसभापति जी मिलने आए, हमने उनसे भी कहा कि संविधान को ताक पर रखकर किसान विरोधी काला कानून बिना वोटिंग के पास किया गया, जबकि भाजपा अल्पमत में थी और आप भी इसके लिये जिम्मेदार हैं।”

2 सांसदों की उम्र 65 से ज्यादा, डायबिटिक भी हैं
धरने पर बैठे सांसदों ने अपने-अपने घरों से तकिया और कंबल ही नहीं, बल्कि मच्छर भगाने की दवा भी मंगवा ली। इमरजेंसी के लिए मौके पर एक एंबुलेंस की व्यवस्था भी की गई है। उनकी बड़ी चिंता अपने दो साथियों- कांग्रेस के रिपुन बोरा और सीपीआई के ई करीम को लेकर है, क्योंकि दोनों की उम्र 65 साल से ज्यादा है और दोनों ही डायबिटीज के पेशेंट हैं।

इन 8 सांसदों का निलंबन हुआ है

  • डेरेक ओ’ब्रायन- तृणमूल
  • डोला सेन- तृणमूल
  • रिपुन बोरा- कांग्रेस
  • राजीव सातव- कांग्रेस
  • सैयद नजीर- कांग्रेस
  • संजय सिंह- आप
  • ई करीम- सीपीआई
  • केके रागेश- सीपीआई

दूसरे विपक्षी दलों के नेताओं के घर से खाना आया
सस्पेंड हुए सांसदों को सपोर्ट करने के लिए सोमवार रात दूसरे विपक्षी दलों के सांसद भी पहुंचे। एक सांसद ने बताया कि विपक्ष के नेताओं के घरों से बारी-बारी से खाने-पीने की चीजें आ रही हैं, ताकि धरने पर बैठे लोगों का शुगर लेवल कम नहीं हो। शिवसेना के संजय राउत, एनसीपी की सुप्रिया सुले, डीएमके की कनिमोझी और तिरुचि सिवा धरना दे रहे सांसदों के लिए इडली लेकर पहुंचे।

साभार -दैनिक भास्कर 

LATEST POSTS

मुख्य सचिव ने की केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा, राज्य स्तरीय नार्को को ऑर्डिनेशन सेंटर के साथ भी की बैठक

देहरादून: मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने बुधवार को सचिवालय में केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा की। मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश...

केंद्र सरकार को तत्काल युवा और राष्ट्र विरोधी अग्निपथ योजना को वापस लेना चाहिए : हरीश रावत

देहरादून: बुधवार को केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में सर्वदलीय विरोध जताया गया। पूर्व सीएम हरीश रावत के नेतृत्व में कई दलों...

प्रदेश में जल्द ही घर बैठे एफआईआर दर्ज कराने की सुविधा कराई जाएगी उपल्बध

देहरादून: जल्द ही प्रदेशवासियों के लिए घर बैठे एफआईआर दर्ज करने की सुविधा उपल्बध कराई जाएगी । वाहन चोरी और गुुमशुदा समान के मुकदमों से...

मुख्यमंत्री धामी ने राज्य में आपदा प्रबंधन को लेकर की समीक्षा बैठक. बोले अगले तीन माह संवेदनशील, अलर्ट रहें अधिकारी

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को सचिवालय में आपदा प्रबंधन की समीक्षा कीI इस दौरान सीएम ने अधिकारियों को आपदा से संबंधित...

Follow us

1,200FansLike
1,033FollowersFollow
340SubscribersSubscribe