सिरोबगड़-नरकोटा लैंडस्लाइड जोन बने सिरदर्द, वाहनों में सड़ रही फल-सब्जियां

0
24

रुद्रप्रयाग:  ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग सिरोबगड़ और नरकोटा में रुद्रप्रयाग और चमोली की जनता के लिए नासूर बन गया है। लगातार हो रही बारिश के बाद सिरोबगड़ और नरकोटा में भूस्खलन जारी है। सबसे ज्यादा परेशानी मरीजों को हायर सेंटर रेफर करने में हो रही है। आवश्यक सामग्री से लदे वाहनों के कई दिनों तक हाईवे पर ही फंसने से दोनों जिलों में सामान की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। सब्जी, फल, दूध सहित अन्य सामान खराब हो रहे हैं।

मॉनसून सीजन में पहाड़ की जनता पर दोहरी मार पड़ रही है। एक ओर जहां हाईवे बंद होने से आवाजाही ठप है तो वहीं रुद्रप्रयाग और चमोली जनपद में कई दिनों तक आवश्यक सामग्री की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। दिक्कतें तब और बढ़ गईं हैं, जब मरीज भी हाईवे बंद होने से फंस रहे हैं।

नरकोटा और सिरोबगड़ में लगातार पहाड़ी से मलबा और बोल्डर गिर रहे हैं। स्थिति इतनी भयावह है कि कब क्या हो जाय कुछ कहा नहीं जा सकता। बोल्डर और मलबे की चपेट में आने से कई वाहन भी दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं। एक महीने के भीतर नरकोटा में एक मैक्स वाहन, 2 जेसीबी मशीन सहित कई दोपहिया वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं।

हाईवे पर कई दिनों से फंसे वाहन चालकों का कहना है कि हाईवे खुल नहीं रहा है और वाहनों में लदा सामान खराब हो रहा है। दूध, सब्जी व फल सहित कई अन्य सामग्री खराब हो रही हैं। इस कारण दोहरी मार झेलनी पड़ रही है।