spot_img
spot_img
Homeउत्तराखण्डप्रदेश में तहसीलदार, नायब तहसीलदार, कानूनगो, पटवारी के कई पद पड़े हैं...

प्रदेश में तहसीलदार, नायब तहसीलदार, कानूनगो, पटवारी के कई पद पड़े हैं रिक्त

-

देहरादून:  उत्तराखंड में राजस्व विभाग में तहसीलदार, नायब तहसीलदार, कानूनगो, पटवारी, सहायक भूलेख अधिकारियों के कई पद रिक्त पड़े हैं। बड़ी संख्या में पद रिक्त पड़े होने से कार्य प्रभावित हो रहा है। विभाग में न तो नई भर्ती हो रही है, न ही खाली पड़े पदों को प्रमोशन से भरा जा रहा।

शासन, सरकार स्तर से प्रमोशन को लेकर मंजूरी मिल चुकी हैं, लेकिन इसके बाद भी प्रमोशन की फाइलें डंप हैं। कोई फाइल कमिश्नर ऑफिस में धूल फांक रही है तो कोई राजस्व परिषद में प्रमोशन का इंतजार कर रही है। राज्य में नायब तहसीलदार के 97 पद खाली पड़े हैं, वहीं कानूनगो के 40 पदों पर प्रमोशन होने हैं। सहायक भूलेख अधिकारी के 13 पदों पर प्रमोशन किए जाने हैं।

इन पदों पर प्रमोशन को लेकर राजस्व विभाग से जुड़े तमाम कर्मचारी संगठन लंबे समय से सरकार पर दबाव बनाए हैं। कई बार आंदोलन की नौबत तक आ चुकी है। हर बार आश्वासन देकर आंदोलन को शांत कराया गया। इसके बावजूद हर बार प्रमोशन की फाइल डंप कर दी गई। अब एक बार फिर कर्मचारी संगठनों ने नये सिरे से आंदोलन को लेकर दबाव बनाना तेज कर दिया है। सरकार को चेतावनी दी गई है कि यदि इस बार प्रमोशन में देरी हुई, तो आर पार की लड़ाई

लड़ी जाएगी। मैदानी क्षेत्रों में पटवारियों के कुल 428 पद हैं। इनमें से अभी 275 कार्यरत हैं। 153 पद खाली पड़े हैं। पर्वतीय क्षेत्रों में पटवारी के 1260 पद हैं, इनमें 807 ही कार्यरत हैं, 453 पद खाली पड़े हैं। राजस्व विभाग में प्रमोशन न होने का सीधा असर काम पर पड़ रहा है। एक-एक नायब तहसीलदार पर दोहरी जिम्मेदारी है।

यही स्थिति कानूनगो और सहायक भूलेख अधिकारियों की है। प्रमाण पत्रों पर रिपोर्ट लगानी हो, या राजस्व वादों का निस्तारण करना हो, हर मामले में आम लोगों को इंतजार करना पड़ रहा है। राजस्व विभाग में जब नायब तहसीलदार के ही 97 पद खाली हैं। तो इसका सीधा असर तहसीलदार के पदों पर पड़ रहा है। तहसीलदार के कुल स्वीकृत पद 114 हैं। इनमें 38 पद भरे हैं। 76 पद खाली हैं। तहसीलदार के पद पर प्रमोशन नायब तहसीलदार के पदों से होते हैं। ऐसे में तहसीलदार के पदों पर प्रमोशन भी फंस गए हैं।

LATEST POSTS

मुख्य सचिव ने की केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा, राज्य स्तरीय नार्को को ऑर्डिनेशन सेंटर के साथ भी की बैठक

देहरादून: मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने बुधवार को सचिवालय में केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा की। मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश...

केंद्र सरकार को तत्काल युवा और राष्ट्र विरोधी अग्निपथ योजना को वापस लेना चाहिए : हरीश रावत

देहरादून: बुधवार को केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में सर्वदलीय विरोध जताया गया। पूर्व सीएम हरीश रावत के नेतृत्व में कई दलों...

प्रदेश में जल्द ही घर बैठे एफआईआर दर्ज कराने की सुविधा कराई जाएगी उपल्बध

देहरादून: जल्द ही प्रदेशवासियों के लिए घर बैठे एफआईआर दर्ज करने की सुविधा उपल्बध कराई जाएगी । वाहन चोरी और गुुमशुदा समान के मुकदमों से...

मुख्यमंत्री धामी ने राज्य में आपदा प्रबंधन को लेकर की समीक्षा बैठक. बोले अगले तीन माह संवेदनशील, अलर्ट रहें अधिकारी

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को सचिवालय में आपदा प्रबंधन की समीक्षा कीI इस दौरान सीएम ने अधिकारियों को आपदा से संबंधित...

Follow us

1,200FansLike
1,033FollowersFollow
340SubscribersSubscribe