कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने की मंत्री के बयान की भर्त्सना , कहा अपनी पद की गरिमा के अनुरूप बात करें मंत्री रेखा आर्य

0
22

देहरादून:  प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने मंत्री रेखा आर्य पर कड़ा हमला बोला है। गोदियाल ने कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय में मीडिया  से वार्ता के दौरान कहा कि मंत्री रेखा आर्य के पति के खिलाफ जिन गंभीर धाराओं में उत्तर प्रदेश पुलिस ने नॉन बेलेबल वारंट जारी किया है उसके मद्देनजर नैतिकता के आधार पर रेखा आर्य को तत्काल प्रभाव से अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। लेकिन इसे दुर्भाग्य ही कहना चाहिए की रेखा आर्य खुद के गिरेबान में झांकने के बजाय लगातार पूर्व मुख्यमंत्री एवं अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के महासचिव हरीश रावत के साथ जुबानी जंग लड़ने का काम कर रही है।

गोदियाल ने कहा कि जिस तरह की शब्दावली का प्रयोग मंत्री कर रही है वह भर्त्सनीय है। गोदियाल ने यह भी कहा कि सूबे के भाजपा अध्यक्ष मदन कौशिक जिस तरह से गिरधारी लाल उर्फ पप्पू साहू पर लगे आरोपों को 25 साल पुराना बताकर आरोपी को संरक्षण देने का और बचाने का काम कर रहे हैं उससे भाजपा का चाल चरित्र चेहरा उजागर हो गया है।

कहा कि यह पहली बार नहीं है कि भाजपा गंभीर अपराधों में संलिप्त लोगों को बचाने का काम कर रही हो।इससे पहले भी भाजपा ने अपने उन तमाम नेताओं को संरक्षण देने का काम किया जो प्रदेश में महिलाओं के यौन उत्पीड़न में संलिप्त पाए गए हैं ।

गोदियाल ने कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में मीडिया से वार्तालाप करते हुए कहा कि भाजपा के अध्यक्ष स्वयं को कानून से ऊपर समझते हैं क्या? गोदियाल ने कहा कि प्रकरण 25 साल पुराना हो या 10 साल वह जब भी उजागर हो उसमें आरोपी को सजा का प्रावधान बनता है। ऐसे में भाजपा जिस तरह से आज बेशर्मी पर उतर आई है उससे उसकी रीति नीति बेनकाब हुई है ।

गोदियाल ने रेखा आर्य पर प्रहार करते हुए कहा के जिस तरह से मंत्री और सम्पूर्ण भाजपा लगातार पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को घेरने का प्रयास कर रही है उसे यही परिलक्षित होता है कि भाजपा को माननीय हरीश रावत जी का कितना खौफ है।

गोदियाल ने कहा कि जिस तरह से मंत्री महोदया अपने पति के कुकृत्य को ढकने का प्रयास कर रही है वह अत्यंत निंदनीय है। उन्होंने कहा कि अच्छा होता यदि रेखा आर्य अपने पति पर लगे हुए आरोपों के स्पष्टीकरण में कोई जवाब देती। गोदियाल ने मंत्री से अपेक्षा करी की कोई भी बात करने से पहले पद की गरिमा का ख्याल रखना चाहिए। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने संपूर्ण भाजपा संगठन से तत्काल प्रभाव से मंत्री के इस्तीफे की मांग की है