Tuesday, October 19, 2021
Homeउत्तराखण्डधरना-प्रदर्शन करने वालों का मौके पर ही होगा कोरोना टेस्ट

धरना-प्रदर्शन करने वालों का मौके पर ही होगा कोरोना टेस्ट

देहरादून: कोरोना काल में धरना-प्रदर्शन और रैलियों के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग नियम का उल्लंघन करने वाले अब सावधान हो जाएं। अब पुलिस प्रशासन स्वास्थ विभाग की मदद से नियम का उल्लंघन करने वालों का तत्काल ही मौके पर कोरोना टेस्ट करवाएगी। ताकि लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमितों से अन्य लोगों को बचाया जा सके। देहरादून डीआईजी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी सिटी श्वेता चैबे को निर्देश दिया है।

डीआईजी ने धरना-प्रदर्शन और रैली के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी करने वालों का तत्काल कोरोना टेस्ट कराने के निर्देश दिये हैं। ताकि इन स्थानों में अगर कोई कोरोना संक्रमित हैं तो उनकी पहचान कर पुलिस स्तर से अन्य लोगों को सुरक्षित किया जा सके। देहरादून में कोरोना के बढ़ते खतरे के बावजूद कई पार्टी और संगठन धरना-प्रदर्शन और रैलियों के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रहे हैं। ऐसे में इस बात की भी जानकारी आ रही है कि कुछ कोरोना ग्रसित लोग इन प्रदर्शनों का हिस्सा होकर संक्रमण को फैलाने का खतरा पैदा कर सकते हैं।

इसी आशंका के चलते देहरादून पुलिस प्रशासन ने निर्णय लिया है कि स्वास्थ्य विभाग की मदद से धरना-प्रदर्शन में सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों का उल्लंघन करने वालों को चिन्हित कर तत्काल उनका कोरोना टेस्ट करवाया जाएगा। ताकि इन स्थानों में कोरोना संक्रमित लोगों की पहचान कर संक्रमण पर कुछ हद तक अंकुश लगाया जा सके। डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने भी माना कि धरना-प्रदर्शन व रैलियों के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों की अनदेखी हो रही है।

हालांकि, पुलिस गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है। वहीं, अब सार्वजनिक स्थानों में नियम उल्लंघन करने वाले लोगों को चिन्हित कर पुलिस स्वास्थ विभाग की मदद से मौके पर कोरोना टेस्ट कराने का प्रयास करेगी। ताकि धरना-प्रदर्शन और रैलियों जैसे अन्य सार्वजनिक कार्यक्रमों में संक्रमित लोगों की पहचान कर अन्य लोगों को सुरक्षित किया जा सके।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments