कुंभ में पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी की पेशवाई तीन मार्च को निकाली जाएगी

0
95

हरिद्वार: हरिद्वार कुंभ में पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी की पेशवाई तीन मार्च को निकाली जाएगी। अखाड़ा प्रबंधन की ओर से पेशवाई की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। पेशवाई में 50 महामंडलेश्वर और हजारों की संख्या में संत शामिल होंगे। हेलीकॉप्टर से पांच क्विंटल गुलाब के फूलों की बारिश की जाएगी। दो ड्रोन पेशवाई की निगहबानी करेंगे।

रामपुर के ऊंट और हाथी पेशवाई की शान बनेंगे। अखाड़े की धर्म ध्वजा 27 फरवरी को स्थापित हो जाएगी। पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी के सचिव एवं मां मनसा देवी ट्रस्ट के अध्यक्ष रविंद्र पुरी ने बताया कि एसएमजेएन पीजी कॉलेज के मैदान से सुबह 11 बजे बैंड बाजों के साथ पेशवाई निकलेगी।

महाराष्ट्र से कलाकारों को बुलाया गया है। पेशवाई कॉलेज के मैदान से शुरू होकर शंकर आश्रम, सिंहद्वार, देशरक्षक तिराहा, कनखल चैक, शंकराचार्य चैक, शिवमूर्ति चैक, वाल्मीकि चैक, गुजरावाला भवन, भाटिया भवन होकर शाम छह निरंजनी अखाड़ा पहुंचेगी। पेशवाई पर हेलीकॉप्टर से फूल बरसाए जाएंगे।

मंगलौर, दिल्ली, बिजनौर और नजीबाबाद से 10 क्विंटल गुलाब के फूल आएंगे। दो ड्रोन पेशवाई की पल-पल की रिकार्डिंग करेंगे। सचिव रविंद्र पुरी ने बताया कि पेशवाई में 50 महामंडलेश्वर शामिल होंगे। हजारों नागा मौजूद रहेंगे।

सबसे आगे भगवान कार्तिकेय का रथ चलेगा। इसके बाद आचार्य महामंडलेश्वर कैलाशनंद गिरि का रथ होगा। उनके पीछे संतों की जमात चलेगी।

पेशवाई में रामपुर के छह हाथी, दो ऊंट और मंगलौर के 50 घोड़े शामिल होंगे। पेशवाई के लिए प्रयागराज से चांदी के सिंहासन और अहोदे सहित अन्य सामान निरंजनी अखाड़ा पहुंच गया है।