चारधाम यात्रा शुरु करने को लेकर तीर्थपुरोहितों और हक हकूकधारियों ने किया बदरीनाथ धाम कूचः पुलिस ने बेरिकेड लगाकर रोका

0
12

देहरादून/चमोलीः प्रदेश में तीर्थपुरोहितों का चारों धाम की यात्रा शुरू करने की मांग को लेकर लगातार धरना प्रदर्शन जारी है। इसी के चलते सोमवार को तीर्थ पुरोहितों सहित यहां के हक.हकूकधारियों ने हाथ में पूजा की थाली लेकर बदरीनाथ धाम के लिए कूच किया। जिसको देखते हुए पुलिस ने बैरिकेड लगाकर प्रदर्शनकारियों को रोक दिया है। इसपर प्रदर्शन कर रहे लोगों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की

पूर्व की तरह ही सोमवार को भी बदरीनाथ के साकेत तिराहे के क्रमिक धरना स्थल पर हक.हकूकधारियों की सभा हुई। इस दौरान तीर्थपुरोहित महापंचायत के अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल ने आज आंदोलनकारियों के साथ बदरीनाथ कूच का एलान किया।

प्रदर्शनकारियों के कूच को देखते हुए पुलिस ने बदरीनाथ पुल के समीप बैरिकेड लगाकर कूच कर रहे हक.हकूकधारियों को बदरीनाथ पुल पर ही रोक दिया। इस दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच धक्का.मुक्की की स्थिति बन गई। 

पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद प्रदर्शन कर रहे हक.हकूकधारी हाथों में प्रसाद की थाली के साथ वहीं पर जमे हुए हैं। ।

इससे पूर्व रविवार को चार धाम यात्रा को लेकर सरकार के रवैये को देखते हुए धरनास्थल पर चारधाम तीर्थ पुरोहित हक.हकूकधारी महापंचायत के अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल ने मुंडन करवाकर सरकार के खिलाफ आक्रोश जताया। वहीं स्थानीय लोगों ने एलान किया कि जब तक यात्रा का संचालन शुरू नहीं किया जाता आंदोलन जारी रखा जाएगा। इस दौरान सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की गई।

बदरीश संघर्ष समिति के अध्यक्ष राजेश मेहता ने कहा कि चारधाम यात्रा का संचालन न होने से यात्रा पड़ावों से लेकर धामों तक लोगों की आजीविका ठप पड़ गई है। सभी पर्यटन स्थल खोल दिए गए हैं, लेकिन चारधाम यात्रा का संचालन रोका गया है, जो गलत है।