अब फोन पर फर्जी कोरोना रिपोर्ट लेकर उत्तराखंड आ रहे पर्यटक

0
86

-आशारोड़ी चेक पोस्ट पर 50 लोग पकड़े
-पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीम नहीं बरत रही ढिलाई
-फर्जी रिपोर्ट दिखाने वालों को दी गई चेतावनी
देहरादून:  बाहरी राज्यों से मसूरी आने के लिए पर्यटक धड़ल्ले से कोरोना की फर्जी रिपोर्ट बनाकर उत्तराखंड आ रहे हैं। बीते रोज भी स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आशारोड़ी चेक पोस्ट पर 50 से अधिक फर्जी आरटीपीसीआर रिपोर्ट पकड़ी हैं। हालांकि, स्वास्थ्य टीम ने आशारोड़ी चेक पोस्ट पर ही सभी का कोरोना टेस्ट किया तो सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई।

स्वास्थ्य विभाग की टीम के प्रभारी और सैंपलिंग नोडल अधिकारी डॉ. एक्यू अंसारी ने बताया कि कोविड कर्फ्यू में ढील के बाद बड़ी संख्या में पर्यटक उत्तराखंड आ रहे हैं। इनमें से कई पर्यटक स्मार्ट सिटी की वेबसाइट पर पंजीकरण तो करा रहे हैं, लेकिन फर्जी आरटीपीसीआर रिपोर्ट लेकर आ रहे हैं।

दरअसल, कई पर्यटक रिपोर्ट की हार्ड कॉपी लाने की बजाय फोन पर साफ्ट कॉपी दिखा रहे हैं। शुक्रवार शाम भी ऐसा ही हुआ। आशारोड़ी चेक पोस्ट पर पकड़े गए 50 ये अधिक लोग फोन पर अपनी रिपोर्ट दिखा रहे थे। इन लोगों को लगा कि फोन में टीम जांच नहीं करेगी। जब बार कोड से जांच की गई तो रिपोर्ट फर्जी निकली। रिपोर्ट फर्जी निकलने के बाद ऐसे लोगों की दोबारा जांच कराई गई।

डॉ. एक्यू अंसारी ने बताया कि शुक्रवार को भी 50 से अधिक मामले पकड़े गए। इन सभी की जांच कराई गई तो सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। रिपोर्ट आने के बाद सभी को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है। हालांकि, अंसारी ने सभी पर्यटकों से गुजारिश की है कि वो हार्ड कॉपी लेकर आएं क्योंकि फोन पर रिपोर्ट जांच में काफी परेशानी आ रही है।

इसको चेक करने में काफी समय लग रहा है। साथ ही उन्होंने सभी ये इस तरह कोरोना फर्जी रिपोर्ट लेकर न आने को कहा है। ऐसा करने पर उन लोगों पर पुलिस कार्रवाई हो सकती है। बता दें, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, पंजाब और हरियाणा से बड़ी संख्या में पर्यटक देहरादून और मसूरी में घूमने के लिए पहुंच रहे हैं।