अपहरण मामले में दो वसूली ऐजेंट गिरफ्तार, एक फरार

0
46

देहरादून:  ब्याज में दिये गये पैसे की वसूली के लिए एक व्यक्ति का अपहरण का प्रयास करना दो वसूली ऐजेंटो को भारी पड़ गया। पुलिस द्वारा उन्हे धारदार हथियारों के साथ गिरफ्तार कर सम्बन्धित धाराओं के तहत जेल भेज दिया गया है। जबकि उनका एक साथी फरार होने में कामयाब रहा जिसकी तलाश में छापेमारी की जा रही है।

जानकारी के अनुसार बीते रोज थाना राजपुर पुलिस को सूचना मिली कि दो बदमाश मसूरी रोड स्थित निर्माणाधीन मेगा काउंटी सोसायटी में एक व्यत्तिफ दानिश का अपहरण करने के उद्देश्य से हथियारों के साथ आए हैं।

सूचना पर कार्यवाही करते हुए पुलिस ने मौके पर पहुंचकर देखा कि दानिश पुत्र इकराम निवासी हुसैनपुर बुढ़ाना मुज्जफर नगर हाल निवासी कुठालगेट जो मेगा काउंटी सोसाइटी में फैब्रिकेटिंग का काम करता है का अपहरण कर दो बदमाश उसे हथियारों के बल पर जबरदस्ती उठा कर ले जा रहे है।

पुलिस द्वारा तुरंत कार्रवाई करते हुए दोनों बदमाशों को मौके पर ही अवैध खुखरी और चाकू के साथ गिरफ्तार कर लिया। थाने लाकर की गयी पूछताछ में उन्होने अपना नाम सौरव प्रधान पुत्र स्व. अजय सिंह प्रधान निवासी ग्राम हरछावाला थाना रायपुर तथा प्रदीप नीरज पुत्र प्रभु दास नीरज मकान नंबर 21 आमवाला तरला शास्त्रीपुरम थाना रायपुर बताया।

बताया कि हम दोनों मियांवाला निवासी नील अरुण के लिए काम करते हैं नील अरुण ब्याज में लोगों को पैसे देता है व ब्याज पर पैसे न लौटाने पर पैसे न देने वाले का हम अपहरण कर अपने ठिकाने पर ले जाते हैं, जहंा पर उससे मारपीट कर जबरन वसूली करते हैं।

बताया कि आज भी हम दोनो दानिश को वसूली करने के उद्देश्य से उठा कर ले जा रहे थे। थोड़ी दूरी पर ही नील अरुण गाड़ी लेकर हमारा इंतजार कर रहा था तथा हमें पुलिस द्वारा पकड़ा देख वह मौके से भाग गया।

अपहरणकर्ताओं द्वारा यह भी बताया कि 25 तारीख को हम लोगों ने दानिश का अपहरण किया था व 2 दिन उसे अपने कब्जे में रखा डराया धमकाया और 2 दिन मे पैसे लौटाने को कहा, उसकी मोटर साइकिल भी कब्जे में रख ली। 2 दिन बाद भी पैसा न लौटाने पर आज हम इसको जबरदस्ती वसूली करने के लिए अपहरण कर ले जा रहे थे।

बहरहाल पुलिस ने उन्हे सम्बन्धित धाराओं के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं फरार नील अरूण की तलाश में छापेमारी जारी है।