आग का कहर: अल्मोड़ा की गौशाला में जिंदा जले दो मवेशी, चकराता में दो मंजिला भवन हुआ राख

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून/ अल्मोड़ा
Updated Wed, 27 May 2020 07:26 PM IST

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

उत्तराखंड में गर्मी बढ़ने के साथ ही आग ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। आज अल्मोड़ा के द्वाराहाट में एक गौशाला में आग लगने से दो मवेशी जिंदा जल गए। वहीं, चकराता में एक दो मंजिला मकान भी आग में जलकर स्वाहा हो गया।द्वाराहाट विकास खंड के गनोली ग्रामसभा नार्गाजुन में बुधवार के दोपहर अचानक गौशाला में आग लग गई। इस दौरान आग से दो भैंस जिंदा जल गईं। गनीमत रही कि गौशाला घरों से दूर थी, वरना आग घर तक भी फैल सकती थी। ग्रामीणों ने किसी तरह आग पर काबू पाया।ग्रामीणों ने बताया कि गनोली गांव में अचानक लोगों ने गौशाला से धुआं निकलता देखा। पता चला कि गंव से 300 मीटर दूरी ललित राम एवं डुगंर राम की गौशाला में आग धधकी हुई थी। लोगों ने पानी डालकर आग पर काबू पाया लेकिन तब तक भैंसे जल चुकी थीं।विधायक महेश नेगी एवं ग्रामीणों ने तत्काल पशु विभाग एवं राजस्व विभाग के अधिकारियों को फोन किया। राजस्व विभाग के उपनिरीक्षक शेखर चन्द्र टीम के साथ मौके पर पहुंचे। वहीं पोस्टमार्टम के लिए भी डॉक्टर को सूचित कर दिया गया। आग के कारणों का पता नहीं चल सका है।
चकराता तहसील क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम मझगांव की गड़ावका छानी में एक दो मंजिला लकड़ी का मकान आग लगने से राख हो गया। आग की चपेट में आने से मकान में रखा सामान भी जल गया। पीड़ित ने तहसील प्रशासन से मुआवजे की गुहार लगाई है। गनीमत रही कि आगजनी के दौरान घर में कोई नहीं था। आग के कारणों का पता नहीं चल पाया है।छानी में मझगांव निवासी केशवराम का दो मंजिला लकड़ी का मकान है। बीते मंगलवार की शाम को वह पशुओं को छानी में बांध कर सोने के लिए गांव स्थित दूसरे मकान में चले गए। देर रात करीब 10:30 बजे उनके छानी स्थित घर के पास रहने वाले लोगों ने मकान से धुंआ उठता देखा। उन्होंने घटना की जानकारी मकान स्वामी को दी।लोगों ने आग पर काबू पाने की खासा कोशिश की, लेकिन हवा ने आग को और भड़का दिया। जिससे चंद मिनटों में ही पूरा मकान आग की चपेट में आ गया। समय रहते लोगों ने छानी में बंधे पशुओं को खोल दिया। पीड़ित ने बताया कि आग लगने से मकान में रखा राशन, एलईटीवी, बिस्तर और बर्तन सब कुछ जलकर खाक हो गया। वहीं, तहसीलदार कुंवर सिंह नेगी ने बताया कि मामले में संबंधित राजस्व निरीक्षक से रिपोर्ट मांगी गई है। विभागीय प्रावधानों के अनुसार पीड़ित को मुआवजा दिया जाएगा।

उत्तराखंड में गर्मी बढ़ने के साथ ही आग ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। आज अल्मोड़ा के द्वाराहाट में एक गौशाला में आग लगने से दो मवेशी जिंदा जल गए। वहीं, चकराता में एक दो मंजिला मकान भी आग में जलकर स्वाहा हो गया।

द्वाराहाट विकास खंड के गनोली ग्रामसभा नार्गाजुन में बुधवार के दोपहर अचानक गौशाला में आग लग गई। इस दौरान आग से दो भैंस जिंदा जल गईं। गनीमत रही कि गौशाला घरों से दूर थी, वरना आग घर तक भी फैल सकती थी। ग्रामीणों ने किसी तरह आग पर काबू पाया।

ग्रामीणों ने बताया कि गनोली गांव में अचानक लोगों ने गौशाला से धुआं निकलता देखा। पता चला कि गंव से 300 मीटर दूरी ललित राम एवं डुगंर राम की गौशाला में आग धधकी हुई थी। लोगों ने पानी डालकर आग पर काबू पाया लेकिन तब तक भैंसे जल चुकी थीं।

विधायक महेश नेगी एवं ग्रामीणों ने तत्काल पशु विभाग एवं राजस्व विभाग के अधिकारियों को फोन किया। राजस्व विभाग के उपनिरीक्षक शेखर चन्द्र टीम के साथ मौके पर पहुंचे। वहीं पोस्टमार्टम के लिए भी डॉक्टर को सूचित कर दिया गया। आग के कारणों का पता नहीं चल सका है।

मझगांव में दो मंजिला मकान में लगी आग, सामान राख

चकराता तहसील क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम मझगांव की गड़ावका छानी में एक दो मंजिला लकड़ी का मकान आग लगने से राख हो गया। आग की चपेट में आने से मकान में रखा सामान भी जल गया। पीड़ित ने तहसील प्रशासन से मुआवजे की गुहार लगाई है। गनीमत रही कि आगजनी के दौरान घर में कोई नहीं था। आग के कारणों का पता नहीं चल पाया है।छानी में मझगांव निवासी केशवराम का दो मंजिला लकड़ी का मकान है। बीते मंगलवार की शाम को वह पशुओं को छानी में बांध कर सोने के लिए गांव स्थित दूसरे मकान में चले गए। देर रात करीब 10:30 बजे उनके छानी स्थित घर के पास रहने वाले लोगों ने मकान से धुंआ उठता देखा। उन्होंने घटना की जानकारी मकान स्वामी को दी।लोगों ने आग पर काबू पाने की खासा कोशिश की, लेकिन हवा ने आग को और भड़का दिया। जिससे चंद मिनटों में ही पूरा मकान आग की चपेट में आ गया। समय रहते लोगों ने छानी में बंधे पशुओं को खोल दिया। पीड़ित ने बताया कि आग लगने से मकान में रखा राशन, एलईटीवी, बिस्तर और बर्तन सब कुछ जलकर खाक हो गया। वहीं, तहसीलदार कुंवर सिंह नेगी ने बताया कि मामले में संबंधित राजस्व निरीक्षक से रिपोर्ट मांगी गई है। विभागीय प्रावधानों के अनुसार पीड़ित को मुआवजा दिया जाएगा।

आगे पढ़ें

मझगांव में दो मंजिला मकान में लगी आग, सामान राख

Source link

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.