बदरीनाथ में हुई जमकर बर्फबारी, हनुमान चट्टी से आगे का रास्ता बंद

0
47

चमोली:  जिले में शीतलहर के बाद से ही ठंड का प्रकोप बढ़ गया है। बदरीनाथ धाम सहित ऊंचाई वाले स्थानों पर जमकर हिमपात हो रहा है। बर्फबारी से हनुमान चट्टी से आगे बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग बाधित हो गया है।जबकि मैदानी इलाकों में सुबह से ही मौसम खराब होने के बाद बारिश जारी है।

बता दें कि, मौसम विभाग के अलर्ट के बाद उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी होने से ठंड का प्रकोप बढ़ गया है। देर रात चमोली के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई, जिससे जिले में ठंड बढ़ गई है।

विकासखंड घाट और देवाल के ऊंचाई वाले गांव रामणी, कनोल, सुतोल, वाण और लोहाजंग में बर्फबारी शुरू हो गई है। ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी होने से निचले इलाकों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। वहीं, पर्यटक स्थल चोपता में भी बर्फबारी जारी है। स्थानीय लोग ठंड से निजात पाने के लिए लोग अलाव का सहारा ले रहे हैं।

भगवान बदरीनाथ के कपाट शीतकाल के लिए बंद होने के बाद से ही धाम में बर्फबारी का सिलसिला जारी है। बर्फ पड़ने से पूरा मंदिर परिसर बर्फ की सफेद चादर से ढक गया है। धाम में हर तरफ बर्फ ही बर्फ दिख रही है। नजारा ये है कि मंदिर के बगल से बहने वाली अलकनंदा नदी भी बर्फ से ठक गई है। बर्फबारी से धाम की ऊंची चोटियां सराबोर हो गई है।

वहीं, पहाड़ी क्षेत्रों में हो रही बर्फबारी से मैदानी इलाकों में भी कड़ाके की ठंड पड़ गई है। लोगों को ठंड से बचने के लिए अलाव का सहारा लेना पड़ रहा है।

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.