कौवे के मरने की सूचना से हड़कंप, बर्ड फ्लू की नहीं हुई पुष्टि

0
145

रुड़की:  सोत मौहल्ला स्थित नदी किनारे बर्ड फ्लू से कौवे मरने की सूचना पर वन विभाग के कर्मचारी और स्थानीय जनप्रतिनिधि मौके पर पहुंचे, जिसके बाद काफी तलाश करने पर एक कौवा मृत पड़ा मिला, जिसको वन विभाग के कर्मचारी अपने साथ ले गए। दरअसल, वन विभाग को सूचना मिली थी कि बर्ड फ्लू के कारण आठ दस कौवे मरे पड़े हैं।

उत्तराखंड में भी बर्ड फ्लू का संकट मंडराने लगा है। हिमाचल प्रदेश में अब तक कई पक्षी इसकी चपेट में आ चुके हैं।राजस्थान-मध्य प्रदेश में कौवे और केरल में बत्तख इस जानलेवा वायरस का शिकार हुई हैं।

जिसकी खबरों से देशभर में दहशत का माहौल व्याप्त है। बर्ड फ्लू को लेकर स्थानीय प्रशासन भी पूरी तरह से मुस्तैद है। वहीं, स्थानीय पार्षद संजीव राय ने बताया कि बर्ड फ्लू के कारण कौवों के मरने की सूचना मिली थी।

मौके पर एक ही कौवा मृत मिला. जिसे वनकर्मी अपने साथ ले गए. उन्होंने बताया अभी इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि इस कौवे की मौत बर्ड फ्लू से ही हुई है।

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.