क्वारंटीन किए गए युवक की अस्पताल में मौत, तबीयत बिगड़ने पर दून किया था रेफर

[ad_1]

न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Updated Thu, 28 May 2020 10:51 AM IST

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

उत्तरकाशी जिले के पुरोला ब्लॉक में क्वारंटीन किए गए एक युवक की दून अस्पताल में मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक उक्त युवक की मौत बुधवार रात दस बजे हुई। युवक गाजियाबाद से अपने दो साथियों के साथ पैदल 19 मई को अपने गांव पहुंचा था। Coronavirus in uttarakhand: क्वारंटीन अवधि पूरी होने के चंद घंटों बाद किशोरी की मौत, मचा हड़कंपयहां इन तीनों को आंगनबाड़ी केंद्र में क्वारंटीन किया गया था। 24 मई को युवक ने छाती में दर्द होने की शिकायत की। जिस पर सीएचसी पुरोला से टीम ने पहुंच कर उसकी जांच की थी। जांच में युवक में कोरोना का कोई लक्षण नहीं पाया गया था।जिसके बाद 26 मई को युवक को चिकित्सकों ने सीएचसी पुरोला से उत्तरकाशी रेफर कर दिया। वहां से उसी दिन युवक को देहरादून रेफर कर दिया गया था। युवक के साथ आए दोनों युवा अभी क्वारंटीन सेंटर में ही हैं।
प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. पंकज ने बताया कि युवक को उल्टी दस्त की शिकायत थी। उसे यहां सीएचसी पुरोला में भर्ती करने के बाद उत्तरकाशी रेफर कर दिया गया था।उन्होंने बताया कि युवक में कोविड के कोई भी लक्षण नहीं थे। दो-तीन बार सेंटर में पहुंचकर खुद उन्होंने उसका चेकअप किया था।वहीं स्टेट कॉर्डिनेटर डॉ. एनएस खत्री ने बताया कि मृतक युवक की आंतों में इंफेक्शन और डिहाईड्रेशन की शिकायत भी थी। कोरोना जांच के लिए सैंपल ले लिए गए हैं।

उत्तरकाशी जिले के पुरोला ब्लॉक में क्वारंटीन किए गए एक युवक की दून अस्पताल में मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक उक्त युवक की मौत बुधवार रात दस बजे हुई। युवक गाजियाबाद से अपने दो साथियों के साथ पैदल 19 मई को अपने गांव पहुंचा था। 

Coronavirus in uttarakhand: क्वारंटीन अवधि पूरी होने के चंद घंटों बाद किशोरी की मौत, मचा हड़कंप

यहां इन तीनों को आंगनबाड़ी केंद्र में क्वारंटीन किया गया था। 24 मई को युवक ने छाती में दर्द होने की शिकायत की। जिस पर सीएचसी पुरोला से टीम ने पहुंच कर उसकी जांच की थी। जांच में युवक में कोरोना का कोई लक्षण नहीं पाया गया था।

जिसके बाद 26 मई को युवक को चिकित्सकों ने सीएचसी पुरोला से उत्तरकाशी रेफर कर दिया। वहां से उसी दिन युवक को देहरादून रेफर कर दिया गया था। युवक के साथ आए दोनों युवा अभी क्वारंटीन सेंटर में ही हैं।

आंतों में इंफेक्शन और डिहाइड्रेशन की शिकायत थी

प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. पंकज ने बताया कि युवक को उल्टी दस्त की शिकायत थी। उसे यहां सीएचसी पुरोला में भर्ती करने के बाद उत्तरकाशी रेफर कर दिया गया था।उन्होंने बताया कि युवक में कोविड के कोई भी लक्षण नहीं थे। दो-तीन बार सेंटर में पहुंचकर खुद उन्होंने उसका चेकअप किया था।वहीं स्टेट कॉर्डिनेटर डॉ. एनएस खत्री ने बताया कि मृतक युवक की आंतों में इंफेक्शन और डिहाईड्रेशन की शिकायत भी थी। कोरोना जांच के लिए सैंपल ले लिए गए हैं।

आगे पढ़ें

आंतों में इंफेक्शन और डिहाइड्रेशन की शिकायत थी

[ad_2]

Source link

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.