नया साल पारंपरिक तरीके से मनाएंःहरीश रावत

0
49

देहरादून: पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने लोगों से नया साल उत्तराखंड की पारंपरिक वेशभूषा और आभूषण पहनकर मनाने की अपील की है। हरदा का कहना है कि इस कोरोना काल में हमने कई चाहने वालों को खोया है।

ऐसे में यदि हम अपने परंपरागत वस्त्र और आभूषण पहनकर नए साल का आगाज करें और अपनी फोटो और वीडियो एक दूसरे को साझा करें, तो नया साल हम सब लोगों के लिए रंग-बिरंगा होगा।

हरीश रावत का मानना है कि प्रदेशवासियों की सबसे बड़ी खासियत है कि वह हजारों दुख दर्द सहने के बाद भी मुस्कुराते हुए अपनी जिंदगी में आगे बढ़ते हैं, लेकिन इस साल कोरोना ने लोगों को बहुत कष्ट पहुंचाया है।

कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से हमने अपनों को खोया है। लेकिन इसके बावजूद जिंदगी का सिलसिला लोग उत्साहपूर्वक आगे बढ़ाना चाहते हैं। ऐसे में नए वर्ष को लोग बड़े उत्साह से मनाएंगे।

अगर हम परंपरागत वस्त्र और आभूषण पहनकर नए साल का आगाज करें तो यह क्षेत्र की विशेषता भी होगी और सांस्कृतिक जुड़ाव को भी दर्शाएगा।

हरीश रावत का कहना है कि पारंपरिक आभूषणों और वेशभूषा को पहनकर लोग अपने फोटो और वीडियो एक दूसरे से साझा कर सकते हैं।

जिससे उत्तराखंड में आने वाला नया साल कलरफुल हो जाएगा. यदि विभिन्न क्षेत्रों में रहने वाले लोग अलग-अलग वस्त्र आभूषण पहनकर नव वर्ष का स्वागत करके एक दूसरे को बधाई दे तों हम नए साल को कलरफुल तरीके से मना सकते हैं।

हरीश रावत ने अपने समर्थकों से कहा कि यदि यह सुझाव पसंद आए तो कृपया उन्हें भी उत्साहित करें।

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.