दमयंती रावत की जगह आयुक्त दीप्ति सिंह कर्मकार कल्याण बोर्ड की सचिव नियुक्त

0
57

देहरादून। उत्तराखंड में हरक सिंह रावत और सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के बीच की तनातनी पिछले कई दिनों से लगातार जारी थी, लेकिन देहरादून में एक कार्यक्रम के दौरान दोनों नेताओं के एक साथ देखने और बेहद सामान्य हालातों में बातचीत से यह लग रहा था कि शायद अब हरक सिंह रावत और त्रिवेंद्र सिंह रावत के बीच की नाराजगी खत्म हो गयी है। वही, अब अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी के एक नए आदेश ने इस विवाद की कहानी को आगे बढ़ाने की रूपरेखा तैयार कर दी है। दरअसल, हरक सिंह रावत ने कर्मकार कल्याण बोर्ड की सचिव दमयंती रावत को लेकर जिस तरह आक्रामक रुख दिखाया था। उसका भी कोई फायदा होता नजर नहीं आया है। हरक सिंह रावत के विरोध के बावजूद भी दमयंती रावत को अब सचिव पद से हटना ही होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने एक नया आदेश कर सचिव पद पर पीसीएस अधिकारी और श्रम आयुक्त दीप्ति सिंह को तैनाती दी है। इस आदेश को लेकर मंत्री हरक सिंह रावत सवाल पूछा तो हरक सिंह रावत ने इसकी जानकारी होने से मना कर दिया साफ है कि श्रम मंत्री की जानकारी के बिना ही कर्मकार कल्याण बोर्ड में सचिव पद पर शासन ने जिस तरह दीप्ति सिंह को जिम्मेदारी दी है। उस से एक बार फिर प्रदेश की राजनीति में हंगामा होना तय है।

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.