हस्तशिल्प विकास परिषद के उपाध्यक्ष ने किया दूनहाट में लगे स्टालों का निरीक्षण

0
35

देहरादून:  उत्तराखंड हथकरघा हस्तशिल्प विकास परिषद के उपाध्यक्ष रोशनलाल सेमवाल दूनहाट पहुंचे। वहों उन्होंने हर स्टॉल का निरीक्षण किया। इस अवसर पर विभागीय अधिकारी शैली डबराल, के. सी. चमोली भी मौजूद रहे।

देहरादून के आईटी पार्क में इन दिनों दूंनहाट का आयोजन किया जा रहा है। नाबार्ड के सहयोग से संचालित इस नवनिर्मित दूंनहाट को दिल्ली हाट की तर्ज पर संचालित किया जा रहा है।

प्रदेशवासी दूनहाट में जमकर खरीददारी कर रहे हैं। दूनहाट में उत्तराखंड के शिल्पी संस्थाओं एवं बुनकरों का सामान उचित दर पर खरीदने को मिल रहा है। इस हाट में शॉल, पंखी, रिंगाल के उत्पाद, मुंज घास के उत्पाद, ऊनी सामान, कालीन, जुट का सामान, ताम्र उत्पाद, घरेलू सामान के साथ-साथ अन्य राज्यों से आए शिल्पियों बुनकरों एवं संस्थाओं के द्वारा खास कारीगरी की हुई साड़ियां चादरें दरियां कालीन इत्यादि को लोगों द्वारा काफी पसंद की जा रही हैं।

इसके अलावा हाट में हैंडलूम हैंडीक्राफ्ट के बने विशेष उत्पाद लोगों को आकर्षित कर रहे हैं। हैदराबादी स्पेशल सूट साड़ी, बागेश्वर के थुलमा चुटका, कोटद्वार की मशहूर पेंटिंग, देहरादून की हिमाद्रि इम्पोरियम की मुंज घास, एवं रिंगाल से बने उत्पाद, ऐपण की पेंटिंग, बनारस की साड़ियां, नारी निकेतन और जेलों से बने कालीन सहित हिमालय क्षेत्र से लाई हुई जड़ीबूटी फरण, चोरू, तिमूर, बालहटी, कुटकी, कूठ, जटामासी और डोलू इत्यादि औषधि को भी लोगों द्वारा पसंद किया जा रहा है।

उत्तराखंड हथकरघा के उपाध्यक्ष रोशन लाल सेमवाल के खुशी जाहिर करते हुए बताया कि इस तरह के आयोजन आगे भी प्रदेश वासियों के लिए समय-समय पर अलग-अलग स्थानों पर किए जायेंगे।