Homeउत्तराखण्डअनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष ने विभिन्न विभागों में बैक लॉग को...

अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष ने विभिन्न विभागों में बैक लॉग को लेकर की बैठक

-

देहरादून: अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष पी.सी गोरखा ने विभिन्न विभागों में रिक्त बैक लॉग के पदों के समीक्षा बैठक ली| इस दौरान प्रदेश में अनेक विभागों में बैकलॉग के रिक्त पदों को नही भरे जाने पर आयोग के उपाध्यक्ष ने अपनी नाराजगी जाहिर की हैं। उपाध्यक्ष ने विभागों द्वारा रिक्त पदों को भरे जाने को लेकर अधीनस्थ चयन आयोग को 2016 से अधियाचन भेजने की बात कही हैं| साथ ही सरकार द्वारा स्वीकृति प्रदान होने से जल्द रिक्त पदों को भरे जाने की सहमती जताई। आयोग के उपाध्यक्ष पी सी गोरखा ने कहा कि रिक्तियों को शीघ्र भरे जाने को लेकर सरकार को सिफारिश करेंगे।

अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष पी.सी गोरखा ने समीक्षा के दौरान शिक्षा विभाग तथा स्वास्थ्य व पेयजल विभाग के द्वारा रोस्टर नही बनाये जाने पर कड़ी नाराजगी जताई है। वहीं, इस संबन्ध में उन्होंने कहा की बैक लॉग पदों को जल्द भरा जाए| साथ ही उन्होंने कार्मिक विभाग के वरिष्ट अधिकारीयों के साथ जल्दी ही समीक्षा बैठक लेने का निर्णय लिया हैं|

पी.सी गोरखा ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेज बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिल सकें जल्द भर्ती की स्वीकृति प्राप्त करने की बात कही।

और निदेशक पंचायती राज विभाग को नैनीताल जिले में अनुसूचित जाति के पद के स्थान पर सामान्य व्यक्ति को नियुक्ति देने पर उपाध्यक्ष ने सख्त नाराजगी जताई| उन्होंने निदेशक को फटकार लगाते हुए जाँच के आदेश दिए हैं| उन्होंने हिदायत दी कि संवैधानिक नियम विरूद्ध अधिकारी ऐसा कोई कार्य ना करें जिसमें आयोग को उनपर विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करनी पड़े|उन्होंने नैनीताल मामले में जांच कर आयोग को रिपोर्ट प्रेषित करने के आदेश दिए|

इसके अलावा उन्होंने देहरादून जिले के पुलिस विभाग के वरिष्ट अधिकारीयों के साथ बैठक कर अनुसूचित जातीय व्यक्तियों के उत्पीड़न सम्बंधित 12 मामलों की समीक्षा लेते हुए जातिगत उत्पीड़न मामलो को विभाग तुरन्त संज्ञान लेते हुए कारवाही करने के साथ एस.सी/ एसटी मामलों में पीड़ित व्यक्तियों को मुवावजा धनराशि देने के निर्देश दिए। जिससे जिलों में एस.सी/एसटी निगरानी कमेटी गठित कर जांच में त्वरित और सुगम कार्रवाई हो सकें।

आयोग में लम्बित रवि कुमार हल्द्वानी ने स्वाथ्य विभाग रोस्टर के प्रकरण में गड़बड़ी को लेकर आयोग में शिकायत दायर की थी| जिसको कि महानिदेशक स्वाथ्य ने रोस्टर उपाध्यक्ष के समक्ष रखा जिसमें अनिमियतता देखी गई। इस संबंध में 7 दिन के भीतर सुधार रोस्टर प्रस्तुत करने के आदेश दिए।

इस अवसर पर एस पी सिटी सरिता डोबाल, पल्लवी त्यागी, सुशील कुमार निदेशक अर्थ सांख्यकी, निदेशक संस्कृत शिक्षा एस पी खाली, निदेशक नन्दा देवी बायोस्फियर निशांत वर्मा, निदेशक पशुपालन डॉ नीरज सिंघल, निदेशक कोषागार बी एन पांडेय, निदेशक मनोज कुमार तिवारी पंचायती राज, आर.एल आर्या, जे एस रावत रेंजर राजा पार्क, संदीप चंद, जिला समाज कल्याण अधिकारी गोवर्धन सिंह, डॉ उमाशंकर कंडवाल, अनुज कौशिक, निर्देशक संदीप सिंह, पवन कुमार, के एस रावत, अरविंद नौटियाल, वि.के आगरी मौजूत रहें|

LATEST POSTS

महिलाओं को रोजगार एवं स्वरोजगार से जोड़ने के लिए प्रभावी प्रयासों की जरूरत

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने महिला श्रमिक सुरक्षा एवं सशक्तीकरण की बैठक लीI इस दौरान सीएम ने राज्य में महिलाओं की सुरक्षा...

पत्नी ने पकड़ा धोखेबाज पति को रंगे हाथ, प्रेमिका को छोड़ हुआ फरार

देहरादून: मुरादाबाद में पति के अफेयर का पता चलने पर घुस्साई पत्नी ने पुलिस को बुलाकर जमकर हंगामा किया I महिला ने पति और उसकी...

शशि थरूर ने जारी किया चुनावी घोषणा पत्र, कहा कांग्रेस में सुधार की जरूरत

देहरादून: कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ रहे शशि थरूर ने चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिया है। इस पत्र में उन्होंने पार्टी के प्रदेश...

एनसीबी ने 120 करोड़ की एमडी ड्रग को किया जब्त, पूर्व पायलट समेत 6 लोग गिरफ्तार

देहरादून: मुंबई नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने गुजरात के जामनगर व मुंबई के एक गोदाम से 120 करोड़ रुपये मूल्य की 60 किलो मादक दवा मेफेड्रोन...

Follow us

1,200FansLike
1,033FollowersFollow
340SubscribersSubscribe